Santoshi Mata: Aarti, Mantra, Vrat Katha, Chalisa, Photos

Santoshi Mata

Aadyaa | Aaryaa | Abhavya

Spiritual Content

Aadyaa | Aaryaa | Abhavya

आरती सन्तोषी माता जी की

हिंदू धर्म की मान्यताओं के अनुसार संतोषी माता एक देवी हैं जिनका शुक्रवार का व्रत किया जाता है. संतोषी माता गणेश और रिद्धि-सिद्धि की पुत्री हैं. उनके पिता गणेश और माता रिद्धि-सिद्धि का परिवार धन, धान्य, सोना, चाँदी, मूँगा, रत्नों से भरा पूरा है. संतोषी माता का व्रत करने से परिवार में सुख-शान्ति रहती है तथा उपासक की मनोकामनाएं पूरी होती हैं और परिवार से शोक, विपत्ति, चिन्ता, परेशानियां दूर हो जाती हैं. सुख-सौभाग्य की कामना से माता संतोषी के 16 शुक्रवार तक व्रत किए  जाने का विधान है. संतोषी माता का व्रत करने के बाद निम्नलिखित आरती की जाती है.   आरती सन्तोषी माता जी की जय...


read more

Santoshi Mata Vrat Katha in Hindi

शुक्रवार के दिन मां संतोषी का व्रत-पूजन किया जाता है. संतोषी माता को हिंदू धर्म में संतोष, सुख, शांति और वैभव की माता के रुप में पूजा जाता है. धार्मिक मान्यताओं के अनुसार माता संतोषी भगवान श्रीगणेश की पुत्री हैं. माता संतोषी का व्रत पूजन करने से धन, विवाह संतानादि भौतिक सुखों में वृद्धि होती है. यह व्रत शुक्ल पक्ष के प्रथम शुक्रवार से शुरू किया जाता है. सुख, सौभाग्य की कामना से माता संतोषी के 16 शुक्रवार तक व्रत रखे जाने के विधान है. शुक्रवार व्रत कथा की विधि  शुक्र ग्रह से पीड़ित व्यक्तियों को इससे छुटकारा पाने के लिए शुक्रवार का व्रत करना चाहिए. यह किसी भी मास के...


read more