Lord Strot


दारिद्रयदहन शिव स्तोत्र | द्रारिद्रता का दहन करने वाला स्त्रोत

दारिद्रयदहन शिव स्तोत्र द्रारिदय दहन स्त्रोत का अर्थ है-द्रारिद्रता का दहन करने वाला स्त्रोत। जिस स्तुति को सुनकर शिव आनंदित हो उठें, ऐसे प्रभाव वाला द्रारिद्रय दहन शिव स्त्रोत है। शिव पूजन के बाद इस स्त्रोत का पाठ किया जाना शिव को प्रसन्न करता है। इस स्त्रोत के पाठ से जीवन की दरिद्रता से छुटकारा मिलता है। जैसे कि अग्नि में जलकर कोई...read more


द्वादशज्योतिर्लिंगस्तोत्र


द्वादशज्योतिर्लिंगस्तोत्र में शिवजी के 12 प्रमुख स्थान का वर्णन है। जहां पर दिव्य ज्योतिर्लिंग रुप स्थित हैं। शिव का ज्योतिर्मय स्वरुप का दर्शन सभी पापों से मुक्ति दिलाने वाला व मन को निर्मल करने वाला कहा गया है। इस पावन स्त्रोत...read more


संपत्ति प्राप्ति हेतु करें श्री ऋणमोचक मंगल स्तोत्र का पाठ


गणपति आदिदेव हैं जिन्होंने हर युग में अलग-अलग अवतार लिया. गणेश भगवान गणों के स्वामी हैं इस लिए इनका एक नाम गणपति भी है. ज्योतिष में इनको केतु का देवता माना जाता है और जो भी संसार के साधन हैं, उनके स्वामी श्री गणेश जी हैं. जीवन में प्रत्येक...read more


सांसारिक मुसिवतों से अपने आप को दूर रखने के लिये करें संकटनाशक गणेश स्तोत्र का पाठ


गणपति आदिदेव हैं जिन्होंने हर युग में अलग-अलग अवतार लिया. गणेश भगवान गणों के स्वामी हैं इस लिए इनका एक नाम गणपति भी है. ज्योतिष में इनको केतु का देवता माना जाता है और जो भी संसार के साधन हैं, उनके स्वामी श्री गणेश जी हैं. जीवन में प्रत्येक...read more